e-Cooperatives

 



FAQs  Home

Frequently Asked Questions- सामान्य प्रश्नावली व उत्तर

1.            eCooperatives क्या है?

  उत्तर:    म.प्र. सहकारिता विभाग द्वारा एन.आई.सी., भोपाल की मदद से “ई-कोआपरेटिव्स”    वेब एप्लीकेशन का संचालन किया जा रहा है, जिसमे सहकारिता विभाग द्वारा   जनसाधारण हेतु संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी एवं सेवा प्रदायता      इस एप्लीकेशन के माध्यम से कियान्वित की जा रही है एवं विभाग के विभिन्न कार्यों में पारदर्शिता,  दक्षता एवं प्रभावशीलता लाने का प्रयास किया गया है | विभागीय “ई-कोआपरेटिव्स” पोर्टल द्वारा विभिन्न जीटूसी, जीटूजी एवं जीटूई सेवाएं प्रदाय की जा रही है.

            वेबसाइट URL: http://mpsc.mp.nic.in/ecooperatives/

 

2.            इस पोर्टल पर किस किस प्रकार के लॉगिन है?

उत्तर: इस पोर्टल पर निम्नानुसार लॉगिन उपलब्ध है:-

       I.            जनसाधारण हेतु नागरिक सेवाएं (Citizen Services), जहा पर सामान्य नागरिक अपना नाम और मोबाइल नं. दर्ज करके पोर्टल पर उपलब्ध विभिन्न प्रकार की नागरिकी सेवाएं हेतु लॉगिन कर सकता है.

     II.            प्रमुख सचिव

  III.            पंजीयक सहकारी संस्थायें

  IV.            वल्लभ भवन

     V.            मुख्यालय एवं मुख्यालय की विभिन्न शाखाओं

  VI.            10 संभाग कार्यालय

VII.            51 जिला कार्यालय

VIII.            2000 से अधिक सेवायुक्तों

   IX.            40000 से अधिक सहकारी संस्थाओं

 

3.            सहकारी संस्थाओं की जानकारी कैसे प्राप्त होगी?

उत्तर: पोर्टल के मुख्य पृष्ठ पर रिपोर्ट उपलब्ध है, जहा Total Societies पर जाते ही मुख्यालय, संभाग एवं जिला स्तर की विभिन्न सहकारी संस्थाओं की जानकारी प्राप्त हो सकेगी |                                        


4.            वर्तमान में पोर्टल पर जनसाधारण हेतु कोन कोन सी सेवायें उपलब्ध है?

उत्तर: वर्तमान में पोर्टल पर जनसाधारण हेतु निम्नानुसार सेवायें उपलब्ध है:-

       I.            प्रदेश की समस्त सहकारी संस्थाओं की आधारभूत जानकारी

     II.            सहकारी समिति के पंजीकरण हेतु ऑनलाइन आवेदन की सुविधा और ऐसे आवेदन के निस्‍तारण की ऑनलाईन प्रकिया

  III.            सामान्य नागरिक द्वारा गृहनिर्माण सहकारी संस्थाओं की शिकायतों करना, शिकायतों के निराकरण की ऑनलाइन मॉनिटरिंग

  IV.            पैक्‍स के माध्‍यम से वितरित किये जा रहे अल्‍पकालीन कृषि ऋण के लिए ब्याज सहायता राशि  की ऑनलाइन गणना और एसएमएस के माध्‍यम से कृषकों को इसकी जानकारी

     V.            नागरिकों को एक सुविधा प्रदान की गई है कि वे एक या एक से अधिक सहकारी समितियों की सभी जानकारी के लिए खुद को रजिस्टर कर सकते हैं तथा जब भी इस तरह की समितियॉ रजिस्ट्रार को कोई दस्तावेज़ प्रस्तुत करेंगी, एक एसएमएस ऐसे नागरिक को उसके बारे में सूचित करने के लिए प्रेषित होगा और ऐसा नागरिक संस्था द्वारा प्रस्तुत दस्‍तावेज़ देख सकेगा व डाउनलोड कर सकेगा.

  VI.            चार्टर्ड एकाउंटेंट के पैनल के लिए ऑनलाइन आवेदन. पूर्व की मैन्‍यूअल और पेचीदा व्‍यवस्‍था को समाप्‍त कर एक कार्यप्रवाह आधारित प्रणाली (workflow based system) शुरू की गई है.

VII.            जनसाधारण को एस.एम.एस. द्वारा विभिन्न सेवाओं हेतु अलर्ट की सुविधा उपलब्ध है. 

 

5.            गृह निर्माण संस्थाओं की सूची कहाँ से प्राप्त होगी एवं किसी गृहनिर्माण संस्था के विरुद्ध शिकायत कैसे कर सकते है ?

उत्तर: पोर्टल के मुख्य पृष्ठ पर रिपोर्ट उपलब्ध है, जहा Total Societies पर जाते ही मुख्यालय, संभाग एवं जिला स्तर की (Type-wise District wise) सहकारी संस्थाओं की सूची प्राप्त होगी, जिसमे “गृहनिर्माण सहकारी संस्थायें” का चयन करने पर     प्रदेश की जिलावार गृहनिर्माण सहकारी संस्थाओं की सूची प्राप्त होगी |                                       

पोर्टल के मुख्य पृष्ठ पर “ गृहनिर्माण सहकारी समितियों की शिकायत ” लिंक दी गई है, जहा पर क्लिक करके, अपना नाम, मोबाइल नं. की प्रविष्टि कर सकते है, जिसके उपरांत उन्हें मोबाइल नं. पर OTP प्राप्त होगा | OTP की प्रविष्टि करके वे शिकायत दर्ज करने हेतु फॉर्म प्राप्त कर सकेंगे.

 

6.            प्रदेश में कुल कितनी सहकारी संस्थायें है? व किस किस प्रकार की?

उत्तर: पोर्टल के मुख्य पृष्ठ पर रिपोर्ट उपलब्ध है, जहा Total Societies पर जाते ही मुख्यालय, संभाग एवं जिला स्तर की विभिन्न प्रकार की समस्त सहकारी संस्थाओं की जानकारी प्राप्त हो सकेगी.

 

7.            सहकारी संस्था के पंजीयन हेतु कोई ऑनलाइन सेवा उपलब्ध है?

उत्तर: पोर्टल के मुख्य पृष्ठ पर नागरिक सेवाएं (Citizen Services) लिंक उपलब्ध है, जहा पर क्लिक करने से “Online Application For Society Registration” लिंक प्राप्त होगी. अपना नाम एवं मोबाइल नं. दर्ज करने पर एक OTP दर्ज मोबाइल   नं. पर उपलब्ध होगा. OTP को पोर्टल में प्रविष्टि कर सत्यापन करने से सोसाइटी पंजीयन हेतु फॉर्म उपलब्ध होगा. फॉर्म मांगी गई जानकारी भरकर “Submit” बटन पर क्लिक करने प्रस्तावित सहकारी संस्था के पंजीयन हेतु आवेदन किया जायेगा.तदुपरांत नागरिक सेवायें लिंक पर उपलब्ध “Search Society Application” पर जाकर अपना आवेदन एवं रिसीप्ट प्राप्त कर सकते है.

8.            किसी भी संस्था के सांविधिक रिपोर्ट (Statutory report) जनसाधारण को कैसे उपलब्ध हो सकते है ?

उत्तर: पोर्टल के मुख्य पृष्ठ पर नागरिक सेवाएं (Citizen Services) लिंक उपलब्ध है, जहा पर क्लिक करने से “Registration For Information Of Society” लिंक प्राप्त होगी. अपना नाम एवं मोबाइल नं. दर्ज करने पर एक OTP दर्ज मोबाइल नं. पर उपलब्ध होगा. OTP को पोर्टल में प्रविष्टि कर सत्यापन करने से प्रदेश की किसी भी संस्था/संस्थाओं की जानकारी/ सांविधिक रिपोर्ट (Statutory report) हेतु जनसाधारण एक या एक से अधिक सहकारी समितियों की सभी जानकारी के लिए खुद को रजिस्टर कर सकते हैं अर्थात अपना मोबाइल नं. पंजीकृत कर सकेंगे. तथा जब भी इस तरह की समितियॉ रजिस्ट्रार को कोई दस्तावेज़/सांविधिक रिपोर्ट (Statutory report) प्रस्तुत करेंगी, एक एसएमएस ऐसे नागरिक को उसके बारे में सूचित करने के लिए प्रेषित होगा और ऐसा नागरिक संस्था द्वारा प्रस्तुत दस्‍तावेज़ देख सकेगा व डाउनलोड कर सकेगा.

 

9.            जिला/संभाग कार्यालय, सहकारिता के संपर्क उपलब्ध है? यदि हा, तो कैसे प्राप्त किये जा सकेंगे ?

उत्तर: हा, उपलब्ध है. पोर्टल के मुख्य पृष्ठ पर रिपोर्ट में “Employee Details” लिंक उपलब्ध है, जहा पर प्रदेश के समस्त सहकारी संभाग/जिला कार्यालयों के पते, पदस्थ अधिकारी/कर्मचारियों के मोबाइल नं. उपलब्ध है |           

 

10.        किसी भी संस्था के यूजरनाम एवं पासवर्ड प्राप्त करने हेतु क्या करना चाहिए?

उत्तर: किसी भी सहकारी संस्था का यूजरनाम एवं पासवर्ड संबधित संभाग/जिला कार्यालय से प्राप्त होगा. एक बार यूजरनाम एवं पासवर्ड प्राप्त होने के बाद संस्था द्वारा पोर्टल पर लॉगिन करने के उपरांत प्रथम द्रष्ट्यता अपना पासवर्ड बदलना होगा     तत्पश्चात वे जानकारी भर पाएंगे. उपरांत सोसाइटी की जानकारी में अपना नाम एवं मोबाइल नं. की प्रविष्टि करने पर संस्था द्वारा “ Forget Password” लिंक पर जाकर अपना पासवर्ड रिसेट कर पाएंगे. संस्था संबंधित संभाग/जिला कार्यालय में भी अपना नाम एवं मोबाइल नं. दर्ज करवा सकती है जिससे भविष्य में पासवर्ड भूल जाने पर रिकवर कर सकते है |        

11.        सहकारी संस्था द्वारा पोर्टल पर कोन कोन सी जानकारी ऑनलाइन प्रस्तुत की जाती है?

उत्तर: सहकारी संस्था द्वारा पोर्टल पर निम्नानुसार जानकरी प्रस्तुत की जाती है:-

·        सोसाइटी की जानकारी

·        वार्षिक आमसभा का नोटिस

·        वार्षिक आमसभा का कार्यवृत्‍त

·        अधिनियम की धारा 49(7) अंतर्गत जानकारी

·        धारा 56(2) अंतर्गत जानकारी

a.      वार्षिक क्रियाकलाप.

b.     लेखाओं की संपरीक्षा

c.      अतिशेष व्‍ययन के लिए प्‍लान ..

d.     उपविधि....

e.     निर्वाचन की तारीख

f.       रजिस्‍ट्रार द्वारा अपेक्षित जानकारी

·        वित्तीय स्थिति विवरण ....

·        लाभ और हानि

·        प्राप्ति और वितरण

·        संचालक मंडल की बैठक का कार्यवृत

·        सदस्‍यता सूची.... 

·        लेखाओं के संपरीक्षक की जानकारी..

·        सहकारी अधिनियम की धारा 59 के अधीन जांच प्रतिवेदन का पालन प्रतिवेदन

·        गृहनिर्माण संस्थाओं की वरीयता सूची

·        मीटिंग ऑब्जेक्शन

12.        क्या म.प्र.राज्य सहकारी अधिकरण में दर्ज कोर्ट केस की जानकारी जनसाधारण को उपलब्ध है? यदि हा, तो कैसे?

उत्तर: हां, उपलब्ध है. पोर्टल के मुख्य पृष्ठ पर रिपोर्ट में “Tribunal Cause List” लिंक उपलब्ध है, जहा पर क्लिक करने पर Report में Tribunal Cause List एवं Hearing Date Status प्राप्त कर सकते है |                         

13.        ई-कोआपरेटिव्स पोर्टल को आज दिनांक तक कितने पुरष्कार से सम्मानित किया गया है ?

उत्तर: ई-कोआपरेटिव्स पोर्टल को आज दिनांक तक निम्नानुसार पुरष्कार से सम्मानित किया गया है:-

·        CSI-Nihilent Award 2012-13

·        SKOCH-ORDER-OF- MERIT 2014

·        SKOCH-ORDER-OF- MERIT 2015

·        11th Elets eIndia Award- 2015

 

14.        पोर्टल में कोई भी सुझाव देने हेतु किसे संपर्क किया जा सकता है?

उत्तर: पोर्टल में सुझाव हेतु आप निम्नानुसार पते पर फ़ोन/ई-मेल से संपर्क कर सकेंगे:

     कार्यालय आयुक्त सहकारिता एवं पंजीयक सहकारी संस्थायें

     ग्राउंड फ्लोर, विंध्याचल भवन,

     भोपाल, म.प्र.- 462 004

            फ़ोन: 0755-2551453

            ई-मेल: rcs.ecooperatives@mp.gov.in

ई-मेल की स्थिति में कृपया विषय में eCooperatives अवश्य लिखें तथा मोबाइल नं. अवश्य दे. आप अपने सुझाव eCooperatives के फेसबुक पेज : https://www.facebook.com/ecooperatives पर भी दे सकते है.